हिन्दी मैंने यूँ सीखी

जिस अंग्रेज़ी स्कूल में बचपन बीता, वहाँ हिंदी नवीं क्लास तक ही पढ़ाई जाती थी। फिर डॉक्टर बनने के चक्कर में हिन्दी का सिरा ऐसा छूटा कि अब लगभग 50 साल बाद आख़िर फिर हाथ लगा! इस दूरी को बढ़ाने में कुछ हाथ मेरी उर्दू से मुहोब्बत का है, मगर बड़ी वजह बनी अपनी नए-नए तजुर्बों के पीछे भागने की आदत!

तो कुल मिला कर हुआ यूँ, कि इस पुनर्मिलन में उतना ही लुत्फ़ आ रहा है जैसे बिछड़ी महबूबा मिली हो! और इस नए रिश्ते को मज़बूत बनाने में सबसे महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं कुछ और नए रिश्ते – मेरे हिन्दी-प्रेमी दोस्त [जिनकी फ़ेहरिस्त अब इतनी लंबी हो चुकी है कि कोई एक तो नाराज़ होगा अगर नाम लेने शुरू किए, तो यही सही रहेगा कि जब वो ये पढ़ें तो तुरंत ख़ुद को पहचान अपनी पीठ थपथपाएँ!]

रात-रात भर जाग अपनी गुमशुदा डाइरियों के पन्नों की ख़ाक छानने का सिलसिला फिर से शुरू हो चुका है! कुछ दिल की तहों से झाँकती यादें साथ दे रही हैं! हमेशा की तरह शब्दों के ख़ाली भंडार आढ़े आ रहे हैं, सो शब्द-कोश झाड़े जा रहे हैं, हिन्दी किताबों की धूल पौंछी जा रही है और सुनने-बोलने, लिखने-पढ़ने, सीखने-सिखाने का कार्यकर्म आरंभ हो चुका है, और लगता है इस बार लंबा चलेगा!

कुछ उम्मीद उन गुमशुदा डाइरियों के पन्नों से है – देखें वह शब्द कितना साथ निभाते हैं इस पन्ने को भरने में – कुछ शुरुआत नीचे दर्ज है!

  1. काव्य-शास्त्र के नियमानुसार शब्दावली [कुछ मूल बातें छन्द, मात्रा, लय, यति, गति और काव्य के बारे में]
  2. मात्रा गणना [स्वर, व्यंजन, और अक्षर के बारे में कुछ मूल बातें और मात्रा गणना के कुछ सरल सूत्र]
  3. गण क्या हैं?
  4. लिंग: यह शब्द स्त्रीलिंग है या पुल्लिंग?
  5. हिंदी वर्तनी के नियम
  6. ये उर्दू का शब्द है कि हिन्दी का?
  7. मुहावरा और लोकोक्ति [मुहावरा क्या है? लोकोक्ति क्या है? कुछ उदाहरण सहित]
  8. कविता की विधाएँ:
    • माहिया [काव्य की विधा]
    • दोहा क्या है?
    • नवगीत [नवगीत क्या है? नवगीत और गीत में क्या भिन्नता है? नव गीत और नई कविता, आदि नवगीत से संबन्धित कुछ मूल बातें]
    • हाइबुन [हाइबुन क्या है? हाइबुन के शिल्प में गद्य और हाइकु की भूमिका, हाइबुन की विशेषताएँ, कुछ उदाहरण]

सीखने का काम जारी है, रहेगा… जीवन भर का श्रम है, करेंगे!